Friday, 23 February 2018



GOOGLE  सर जी ,  जय जिनेन्द्र

आपकी महिमा अपरम्पार है। आज आपके कारण कठिन कार्य भी

आसान हो गया है। आपके कारण ही अनेको लोग अपनी प्रतिभा को

उजागर कर सके।

मैं भी उनमें से ही एक हूँ। ज्यादा कुछ तो नहीं बस शाम का समय

कुछ देखकर -कुछ लिखकर व्यतीत हो जाता है। आज के भौतिक

युग में मिलने -जुलने का ना किसी के पास समय है और ना ही अपनी

विचारधारा के लोग मिल पाते हैं।

हम जो भी गूगल पर लिखते हैं आप उसका स्टेट्स बयान कर देते हैं।

यह बहुत ही अच्छा है। मुझे ऐसा पिछले साल पता चला जब मैं कुछ

लिखकर ऐसे ही स्टेट्स देखने लगा। तब से मैं अक्सर अपना स्टेट्स

देख लेता हूँ। पहले स्टेट्स पर pageviews एवं fbviews के आंकड़े

आते थे। जिसमे आखिरी बार    21725     एवं 213213 यह आंकड़ा

दिनांक 26 जनवरी 1917 को लिखा आया था। अब सिर्फ pageviews

का आंकड़ा आता है जो आज 33260 है। कृपया आप fbviews का

आंकड़ा भी जारी करें। आपकी अति कृपा होगी। धन्यवाद।

                                        

No comments:

Post a Comment