Monday, 18 December 2017


जीत गये गुजरात - हिमाचल
--------------------------------

मोदीजी के नेत्तृत्व में एक बार फिर से देश के दो राज्यों

गुजरात और हिमाचल में बीजेपी को पूर्ण बहुमत से जीत

मिली।

कांग्रेस के युवराज -अध्यक्ष राहुल गाँधी के अथक प्रयासों

के बावजूद उन्हें देश भर में हार का सामना करना पड़ रहा

है। अध्यक्ष बनते ही दोनों राज्यों के चुनावो में कांग्रेस को हार

का मुँह देखना पद रहा है।

बीजेपी और कांग्रेस के नेत्तृत्व में सबसे बड़ा अंतर यह है की

मोदीजी देश को भ्र्ष्टाचार मुक्त बनाते हुए विकास की गंगा

बहा देना चाहते हैं। इसके लिए वे असूलों से समझौता नहीं

करते। सिर्फ वोट की राजनीति नहीं करते। विकास के लिए

कठिन निर्णय लेने से भी नहीं हिचकते। सबका साथ -सबका

विकास का नारा बुलंद करते हुए आगे बढ़ते हैं।

वहीं दूसरी ओर राहुल गाँधी बिना किसी ठोस नीति के दूसरों

के सहारे आगे बढ़ना चाहते हैं। जिसमे उन्हें हार ही मिलती

है। कांग्रेस के बड़े -बड़े दिग्गजों को छोड़ नये -नये ऐसे मित्र

बना लेते हैं जो उनका अहित ही करते हैं। कभी टोपी की

राजनीति तो कभी मंदिर की राजनीति उन्हें ले डूबी। राहुल

गाँधी यदि अपनी कांग्रेस पार्टी के जहाज को मजबूती से चलायें

तभी वे आगे बढ़ सकते हैं। दुसरो के कंधे पर रखकर बंदूक

चलाना उनका अहित ही कर रहा है। राहुल गाँधी को जातिवाद

की राजनीति छोड़कर विकास की राजनीति पर आगे बढ़ना चाहिए।


No comments:

Post a Comment